“हाजिरजवाबी”

दीपिका झा।                                       

“हाजिरजवाबी”

जखन वरिष्ठ पत्रकार रजत शर्मा अपन टीवी प्रोग्राम आप की अदालत में माननीय अटल बिहारी वाजपेई जी सं पुछलखिन कि, बाहर अहि तरहक चर्च भ रहल अछि कि भारतीय जनता पार्टी दू दल अटल और आडवाणी में विभाजित भ गेल अछि।अहि पर अहां की कहै चाहै छियै?

अई प्रश्न पर अटल जी के जबाब रहैनि
हम नहिं अई दल में छी नहिं ओई दल में। हां! दल-दल में कमल फुलाई ताहि लेल प्रयासरत रहै छी। ओतय उपस्थित सब लोक ठठा क हसि पड़ल।😃
ई छलैनि अटल जी कें हाजिर जवाबी।

इमरजेंसी के दौरान जहन ओहि समय के प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी जी अटल जी के भाषण और हुनकर बाजै के अंदाज पर उग्र तेवर देखबति कहलखिन जे
अटल जी अहां जनता के बीच भाषण देबै काल हाथ हिला क जे बाजैति रहै छी तहन अहां एकदम “हिटलर” जकां लगैत छी।

अपन तुलना हिटलर सं भेला पर अटल जी तमसा क ओही तरहक ज़बाब द सकै छलखिन लेकिन नै, ओ किछ हटि क ज़बाब देलखिन।

कहलखिन मैडम! लोक जहन बजै छै त हाथ हिलनाई सामान्य बात छै, अहांके यदि ई हिटलर जकां लगैयै त हम आब हाथ नै, पैर हिला क बाजब। 😃
चलतै ने…..?

इंदिरा जी निरुत्तर भ गेली, हंसी लाईग गेलनि।

ककरो जबाब देबै लेल जरूरी नहिं छै कि ओकरे सन भाषा के सहारा ली। अपन सूझ-बूझ सं ककरो प्रश्नक अई तरहक उत्तर दी जे सामने बला निरुत्तर भ जै आ विवादो नै क पाबै।
अटल बिहारी वाजपेई एहेन शख्शियत के नाम छैन जिनकर विचारक अनुकरण केला सं साधारण व्यक्ति असाधारण बनि सकैयै।

पूर्वक लेख
बादक लेख

3 Responses to “हाजिरजवाबी”

  1. सर अहां केर लेख सब बहुत नीक आउर detail मे होकत अछी मुदा upsc Bpsc केर विद्यार्थी सबक ईन्टरनेट पर किछु पावल भगवान पावल केर समानै छे। अहास विनम्र निवेद छे कि आपन कला आउर ज्ञानक भंडार स्टुडेन्ट सबक बिच वितरण करु।

  2. सर मैथिली के सर्वोत्तम न्युज मिडिया पर UPSC और BPSC के विद्यार्थियो के लिए भी कुछ study material उपलब्ध कराया जाये।

    • प्रवीण नारायण चौधरी

      बहुत बढियाँ सुझाव। हम एहि दिशा मे स्रोत व्यक्ति सब केँ अपन लेख-सामग्री, सुझाव आ तकनीक सब पठेबाक लेल आग्रह करैत छियनि। अहाँक धन्यवाद सुमन जी!
      – सम्पादक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

5 + 5 =