एकरा कहैत छैक तरीका – नेतृत्व मे विश्वास रखले सँ देश आ जनताक समृद्धि आ विकास संभव

नेतृत्व मे विश्वास – देशक संग जनताक समृद्धि आ विकास
 
आइ २२ मई २०१९ – विश्व केर एक महान लोकतांत्रिक राष्ट्र भारत केर आगामी ५ वर्ष केर सरकार केर कार्यकालक लगभग अन्तिम दिन, कारण काल्हि नव सरकार केकर बनत से चुनावी परिणाम घोषित कयल जायत। एहि बीच अनेकों नाटकीय प्रकरण सभ इलेक्ट्रानिक मीडिया, सोशल मीडिया आ धरातलीय राजनीति मे होइत देखल जा रहल अछि। एक्जिट पोल केर हिसाब सँ भारत मे पुनः ५ वर्ष ‘मोदी सरकार’ केर बनय जा रहल अछि, आर एहि बातक असर विपक्षी दल केँ बेचैन कय देने य। अलग-अलग कोण सँ अलग-अलग सुर आ ताल संग भिन्न-भिन्न राग अलापबाक नाटकीय प्रकरणक भरमार देखल जा सकैत छैक। एहि बीच सब सँ बेसी दबाव मे जे एक निकाय अछि ओ थिक ‘भारतीय चुनाव आयोग – Election Commission of India‘। सभक आशा-निराशा-अपेक्षा केर क्षार-भार ईसीआई केर कपार! जेकरा देखू से चुनाव आयोग केँ दस गो बात कहैत देखा रहल य।
 
जखन कि भारतीय चुनाव आयोग जहिना एक स्वायत्त संस्थाक रूप मे भारतीय संविधान द्वारा बनाओल गेल, ओकर काज सेहो किछु तहिना होइत रहल छैक। एखन धरि एहेन कोनो आरोप चुनाव आयोगक निष्पक्षता केँ कलंकित नहि कय सकल छैक। हँ, आरोप लगौनिहार आ फ्रस्ट्रेशन मे रहल कतेको लोक ईवीएम मशीन सँ लैत ईवीएम केर सुरक्षा आ बन्दोवस्त (एक जगह सँ दोसर जगह) लय जेबाक क्रम मे गड़बड़ीक आशंका जरूर जतबैत आयल छथि, एहि बेर सेहो ओ लोकनि अपन-अपन शंका-उपशंका चुनाव आयोग पर मढैत देखा रहला अछि। चारूकात अफरातफरी मचल अछि, लेकिन ५ वर्ष सक्षम-सफल ढंग सँ सरकार चलौनिहार नेता नरेन्द्र मोदी, सब सँ पैघ एनडीए घटक दल भारतीय जनता पार्टीक अध्यक्ष आ नेता संग कार्यकर्ता लोकनि अपन जीत प्रति विश्वस्त आगामी तैयारी मे लागल देखाइत अछि।
 
सब सँ पैघ बात होइत छैक एकटा निर्णायक नेतृत्व, निर्णायक कार्ययोजना आ निर्णायक कार्यनीति – एहि सँ लबालब भरल एनडीए केर कार्यशैली बिल्कुल एक कारपोरेट मैनेजमेन्ट पैटर्न पर चलि रहल छैक। देशक सत्ता केर संचालन सब सँ पैघ कारपोरेशन केर संचालन जेकाँ हेबाक चाही – से कल्चर स्पष्ट छैक। जहिना कोनो सफल उद्यम, उद्योग, व्यवसाय, बाजार, व्यवस्थापन, इवेन्ट आदिक संचालन करबाक लेल सब कार्यनीति पहिने सँ तय कय ओहि अनुरूप पूर्ण अनुशासित ढंग सँ बढैत सफलता आ उत्कर्ष हासिल करैत अछि – से बात-विचार एनडीए मे खूब देखाइत अछि। विपक्ष एहि मामिला मे छहोंछित अवस्था मे यत्र-तत्र बिखड़ल देखाइछ।
 
काल्हि २१ मई केँ प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी प्रति पुनः विश्वास प्रकट करैत हुनका धन्यवाद ज्ञापन करैत आगामी नेतृत्व लेल तैयार होयबाक मनसाय सँ सम्मान देबाक कार्यक्रम समस्त एनडीए घटक मिलिकय कयलनि। ई दृश्य देखबैत अछि जे भारत जेहेन शक्तिशाली राष्ट्र केँ संचालन करबाक वास्ते राजनीतिक तैयारी कतेक अनुशासित आ सुसंगठित अछि। एकर ठीक बिपरीत विपक्ष काफी विचलित आ हारल मानसिकता सँ ग्रसित अनाप-शनाप बयान दैत देखा रहल अछि। काल्हि जाहि तरहें एनडीए अपन एकजूटताक प्रदर्शन करैत फेर सँ मोदी जी मे विश्वास प्रकट केलक अछि, जाहि तरहें हुनकर नेतृत्व मे एतेक लम्बा समयक चुनावी अभियान पूरा केलक आर आब आगाँ जाहि तरहें बढबाक लेल ओ सब अपन मन-माथा केँ कंडिशनिंग करत, तेकर विलक्षण दृश्य प्रस्तुत कयल गेल अछि। यैह भारतक आगामी समृद्धि आ विकास केर परिचायक थिक। ई सुनिश्चित अछि जे आगामी ५ वर्ष आरो महत्वपूर्ण कार्य सब करैत भारत देश आ ओहि ठामक जनता केँ आगाँ बढायल जायत। नेतृत्व मे विश्वास देश ओ जनताक विकासक पहिल सूत्र होइछ, ई स्पष्ट भेल।
 
हरिः हरः!!
पूर्वक लेख
बादक लेख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

8 + 4 =