चर्चित आ लोकप्रिय गीतकार प्रकाश झा औता लाइव ‘दहेज मुक्त मिथिला’ पर ८ बजे आइ

२५ अप्रैल २०२०, मैथिली जिन्दाबाद!!

प्रकाश झा – मैथिलीक एक महान गीतकार आइ दहेज मुक्त मिथिला पर लाइव औता

 
एडमिन वंदना चौधरी ई जानकारी शेयर करैत दहेज मुक्त मिथिला समूह केर सदस्य लोकनि सँ आइ २५ अप्रैल रातिक ८ बजे उपस्थित रहबाक निवेदन कयलीह अछि।
 
विदिते अछि जे दहेज मुक्त मिथिला एक चिर-परिचित अभियानक परिचायक नाम थिक। एहि समूहक योगदान मैथिली-मिथिलाक अनेकों अभियान मे सहयात्रीक रूप मे सुविख्यात रहल अछि।
 
वर्तमान समय लौकडौन केर माहौल मे घरहि बैसल समय बितेनाय एकटा गम्भीर चुनौती सिद्ध हेबाक कुबेर मे मैथिली सृजनकर्म अपन उत्कर्ष केँ सिद्ध कय रहल अछि। आन घड़ी अफीमी नशावत हिन्दी, पंजाबी व भोजपुरी आदिक नशा मे आकन्ठ डूबल मिथिला समाज लेल ई लौकडौन अपन विस्मृत हनुमानी शक्ति केँ पुनर्स्मरण लेल रामबाण सिद्ध भऽ रहल अछि।
 

प्रकाश झा केर गीत-रचनाक प्रसिद्धि के नहि जनैत अछि

 
दहेज मुक्त मिथिला समूहक संस्थापक अध्यक्ष प्रवीण नारायण चौधरी स्वागत करैत कहला, “वाह, हार्दिक स्वागत। हिनकर सब गीत मर्मस्पर्शी आ चिरकाल धरि स्मरण करय योग्य, असगरो मे गुनगुनाय योग्य आ मित्रहु सब संग चर्चा करय योग्य – सरेआम कोनो मंच व सभा आदि पर सेहो प्रस्तुत कय हजारों दर्शक-श्रोता केँ मंत्रमुग्ध करय योग्य होइत अछि। समय, देश आ परिस्थिति अनुरूप लेखन मे चतुर कवि शिरोमणि छथि श्री प्रकाश झा। हम सब बड़भागी छी जे ई अपनहि शब्दांकनक संग ‘दहेज मुक्त मिथिला’ लेल सेहो अभियान गीत लिखलनि अछि। संगहि, अपन सौजन्य सँ ओ गीत एहि अभियान प्रति अपन समर्पण-समर्थनक स्नेह-चिह्न रूप मे समर्पित करबाक जनतब देलनि अछि।”
 
ओ ईहो कहलनि जे पराम्बा जानकीक असीम अनुकम्पा सँ जाहि तरहें हम सब कियो मिलिजुलि अपन मिथिला केँ दहेज कुप्रथा सँ मुक्त करबाक एकटा संकल्प आ अभियान चलौने छी, ताहि मे प्रकाश भाइ केर योगदान काफी महत्वपूर्ण डेग होयत। एकर आडियो उपलब्ध भेलाक बाद वीडियो सेहो तैयार करबाक लेल हम सब कियो अपन लुक्खी प्रयास करब। ओ गीत जतय-जतय बाजत, हमरा पूर्ण उम्मीद अछि जे केहनो कठोर हृदय लोक दहेज मुक्त हेबाक लेल तुरन्त शपथ लय लेता। आउ, प्रकाश भाइ केँ सुनैत छी लाइव मे। पापा बिसरय नै छी कोरा – अहाँक चकलेट वाला झोरा… https://www.youtube.com/watch?v=5TW7vrqeK6c – ई हमरा बड नीक लगैत अछि।
 
सुतू-सुतू बौआ राति बड़ भेल…. अनेकों गीत जेकर ई रचना कयलनि अछि से सबटा बहुत उच्चकोटिक अछि। बहुत गम्भीरता सँ उत्कृष्ट कार्य करब हिनकर विशिष्टता रहलनि अछि। मैथिली संसार मे एहि तरहक उच्चमूल्यक योगदान देनिहार अत्यल्पे भेला अछि, लेकिन ओ सब एहेन-एहेन महान कार्य कय देलनि अछि जे आगामी कतेको पीढी धरि याद कयल जायत। भारतक एक सँ बढिकय एक प्रसिद्ध गायक यथा उदित नारायण, अल्का याज्ञनिक, आदि द्वारा मैथिलीक गीत गायन करेबाक रेकर्ड सेहो प्रकाश जीक नाम मे सुरक्षित अछि। निरन्तर नीक कार्य करनिहार मे मैथिली मीडियाक चर्चित चेहरा थिकाह प्रकाश झा। मैथिलीक मौलिकता केँ सदिखन उच्च महत्व दैत हिनका द्वारा रचना लिखबाक संग-संग स्वयं गायन सेहो कयल जाइत अछि। मैथिली जिन्दाबाद केर तरफ सँ हार्दिक शुभकामना!!
पूर्वक लेख
बादक लेख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 + 7 =