कि कहैत अछि अपन मिथिलाक परम्परा – महामारी सँ बचबाक सहज उपाय

आस्था-विश्वास आ स्वाध्यायक प्रसाद

– प्रवीण नारायण चौधरी

जनकल्याणार्थ एक अपील
 
कोरोना वायरस केर संक्रमण सँ विभिन्न देश ठप्प पड़ि गेल अछि। राज्य संचालक (सरकार) द्वारा जारी कयल गेल निर्देशन आ बचबाक उपाय केँ देखैत-बुझैत सब कियो जरूर सतर्कता अपनाबी।
 
हमर व्यक्तिगत विचार आ आह्वान
 
चूँकि हम एक आस्थावान हिन्दू छी, वैदिक विश्लेषण मे एहि तरहक महामारी केँ कोनो विशेष प्राकृतिक आक्रमण मानल गेल अछि। कुशल ज्योतिष सँ एहि समयक ग्रह-नक्षत्रक स्थिति आ बीमारीक संक्रमण सम्बन्ध मे जँ सलाह-मशवरा करब त बहुत रास रहस्यपूर्ण तथ्य सब सोझाँ आओत। हम प्रयास कएने रही, लेकिन मीडिया द्वारा जाहि तरहें सजगता-सतर्कताक एकटा अलग भयावह माहौल बना देल गेल अछि, ताहि मे वैदिन कर्मकांड सँ निजात पेबाक स्थिति नहि रहि गेल बुझाइत अछि। अतः विज्ञानहि केर शरण मे रहिकय सब कियो अपन सुरक्षा जरूर करी।
 
तथापि, जिनका सँ संभव हुअय से कृपया निम्न कार्य जरूर करीः
 
१. चैती नवरात्राक अनुष्ठान लेल संकल्प ली।
२. एखनहिं सँ “ॐ जयन्ती मङ्गलाकाली भद्रकाली कपालिनी दुर्गा क्षमा शिवाधात्री स्वाहा स्वधा नमोस्तुते” मंत्र केर सामूहिक जप करय जाउ। एहि सँ महामारी सँ शीघ्र निजात भेटत।
३. भगवन्नाम भजन “सीताराम सीताराम” अथवा “हरे कृष्ण हरे कृष्ण कृष्ण कृष्ण हरे हरे – हरे राम हरे राम राम राम हरे हरे” महामंत्र या जाहि कोनो नाममंत्रक जाप-कीर्तन अष्टयाम या नवाह कीर्तनक रूप मे कय सकी से जरूर करी।
४. यज्ञ-हवन सँ आरम्भ आ पूर्णाहुति देबाक विशेष लाभ भेटत।
५. एखन सब कियो घर मे छी, जँ संभव हो त सामूहिक रूप सँ रामचरितमानस केर “सुन्दरकाण्ड” केर गान सहित पाठ करय जाउ।
 
फेसबुक केर सदुपयोग कयनिहार सज्जनवृन्द सब सँ विशेष आग्रह जे एहि तरहक अनुष्ठान सभक लाइव सेहो करी। लाभ सब केँ भेटत। ई विशेष अवग्रहक क्षण मे एहि तरहक धार्मिक अनुष्ठानक विशेष लाभ होइत छैक। अस्तु! भगवती सभक कल्याण करथि।
 
सर्वमंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थ साधिके।
शरण्ये त्रयम्बिके गौरी नारायणि नमोस्तुते॥
शरणागतदीनार्त परित्राण परायणे।
सर्वस्यार्तिहरे देवी नारायणि नमोस्तुते॥
सर्वस्वरूपे सर्वेशे सर्वशक्ति समन्विते।
भयभ्यस्त्राहि नो देवि दुर्गे देवि नमोस्तुते॥
 
हरिः हरः!!
पूर्वक लेख
बादक लेख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 + 5 =