मिथिलाक प्रसिद्ध युवा चित्रकार मनीषा शाह केर जन्मदिन पर प्रवीण शुभकामना

युवा चित्रकार मनीषा शाह केर जन्मदिन पर प्रवीण शुभकामना
 
मिथिला चित्रकला संग आरो कतेको कला मे परिपूर्ण हमर धर्म-बहिन मनीषा शाह केर जन्मदिन पर शुभकामना दैत अपनो हर्षक ठेकान नहि अछि। प्रस्तुत तस्वरी १७म अन्तर्राष्ट्रीय मैथिली सम्मेलन विराटनगर मे प्रस्तुत मनीषा शाह केर चित्रकला स्टालक पृष्ठभूमि मे अपन सहयोगी भाइ संग मनीषा स्वयं सेल्फी लैत देखा रहल अछि आर दोसर मे स्वयं अपन स्टाल पर मनीषा केँ हम सब देखि रहल छी। एखनहि फेसबुक नोटिफिकेशन कहलक जे मनीषाक जन्मदिन आइये छी, से देखैत देरी ई शुभकामना सन्देश लिखि रहल छी। पराम्बा जानकी आ मर्यादा पुरुषोत्तम रामजी हमरा सभक बहिन आ पाहुन मनीषाक सब सख-मनोरथ आ सोचल मन्जिल धरिक यात्रा सफलता सँ निष्पादन करबथि, यैह विशेष शुभकामना बहिन मनीषा केँ।
 
अत्यन्त आकर्षक व्यक्तित्वक धनी बहिन मनीषा संग पहिल भेंट वर्ष २०१८ केर दिसम्बर मासक २२ आ २३ तारीख केँ निर्धारित एकमात्र आयोजन “अन्तर्राष्ट्रीय मैथिली सम्मेलन” मे जनकपुर मे भेल छल। हिनका द्वारा बनायल गेल कलाकृति आ चित्रकला बनायल कैनवास आ फ्रेम्ड चित्र सब देखि बहुत आनन्दित भेल छल मोन। तहिये मोन मे ईहो बैसि गेल छल जे मिथिला ओहिना सनातन चौजुगी जिययवला सभ्यता नहि रहल अछि। लोक कतबो अराजक आ स्वार्थी राजनीतिक छद्म सोचक कारण मिथिला केँ विखंडित करबाक षड्यन्त्र करय, लेकिन जाहि सभ्यता केँ मनीषा समान लाखों-करोड़ों सर्जक भेटत तेकरा ओकर बेजा मनसाय कि बिगाड़ि सकत!
 
सदिखन एकटा विजयी मुस्कानक संग प्रस्तुत होइत देखल अछि मनीषा केँ। एकटा सफल चित्रकारक संग खूब नीक पढल-लिखल आ आधुनिकताक आवरण मे सजल-धजल युवती द्वारा पहिल बेर मिथिला चित्र सहितक कइएक पेन्टिंग व अन्य उपयोगी घरेलू साज-सज्जा एवं सामान्य उपयोगक वस्तु मे पर्यन्ट मिथिला चित्रकलाक सुन्दर प्रयोगक कइएक प्रकार चीज-वस्तु प्रदर्शनी करैत पहिल बेर १६म अन्तर्राष्ट्रीय मैथिली सम्मेलन जनकपुर मे हिनका हम देखने रहियनि। १७म सम्मेलन मे ई विराटनगर आबिकय अपन स्टाल लगौलीह आ आगन्तुक हजारों दर्शक आ अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिनिधि लोकनि हिनकर कलाकृति सब देखिकय ओतबे प्रभावित-प्रेरित भेलाह। मनीषाक नाम पूरे विश्व-पटल पर स्थापित होइत देखि हमरा मोने-मोन खूब सन्तुष्टि भेटल।
 
एहि बेर मनीषा आबय सँ पहिने फोन कयलीह जे भाइजी हम सब जनकपुर सँ चलि रहल छी से कतय पहुँचबाक अछि… तखन हम कहलियनि जे विराटनगर मे आबि जाउ आ कतहु केकरो सँ पूछबैक त कहि देत जे मैथिली कार्यक्रम कतय हेतैक आ कतय जेबाक अछि…. लेकिन आबय सँ पहिने बहिन हमर एकटा काज कय दे…. कनी जानकी जीक मन्दिर चलि जो आ एहि कार्यक्रमक सफलता लेल प्रार्थना करैत थोड़ेक निर्माल लेने अबिहें। बच्चे सँ हमर आदति रहल अछि, कतबो मोन खराब होइत अछि या कोनो तरहक डर-घबराहट… आ कि निर्माल सँ अपन माथा आ आँखि हँसोथि लेलापर सबटा समस्या खत्म भऽ जायल करय। से सोचलहुँ जे ई १७म अन्तर्राष्ट्रीय मैथिली सम्मेलन हमरा सिरे जनकपुरे मे जानकी जीक निर्माल जेकाँ त आयल रहय, एकर अन्तिम निरूपण-निष्पादन सेहो हुनकहि निर्माल सँ पूरा हो, आ से मनीषाक विशेष श्रद्धा आ स्नेह सँ पूरा भेल। मनीषा केँ एहि लेल कतेक आशीर्वाद दी से मोन नहि भरैत अछि। बस… आइ तोहर जन्मदिन अछि बहिन, से हृदय सँ तोरा शुभकामना आ आशीष दुनू दैत छियौक।
 
एकटा गिफ्ट सेहो दैत छियौक…. तूँ एक दिन संसार मे बहुत पैघ नामी कलाकार केर रूप मे जानल जेमे आ मिथिलाक बेटीक रूप मे तोहर नाम खूब दूर-दूर धरि ख्याति हासिल करत। एकर अलावे हमर गिफ्ट तोहर एकल चित्रकला प्रदर्शनी मैथिली एसोसिएशन नेपाल केर तरफ सँ विराटनगर मे लगबा सकी से तोहरे सहयोग सऽ… बुझिते छिहीन जे मैथिली कार्यक्रम लेल टका-पैसा भाइजी सब लग बड सीमित रहैत छौक… लेकिन अपना सब कियो मिलि-जुलि बहुत किछु कय सकैत छी। आइ हमरा सभक लेल भले राज्य आ सरकार केर सहयोग बहुत उच्चकोटिक नहि अछि, लेकिन हम सब केकरो आगू सिर नहि झुकबैत छी… से केना…? से केवल आपस मे सुन्दर सहयोग आ समन्वय स्थापित कय केँ। नाउ स्माईल बहिन, हैप्पी बर्थडे अगेन!
 
हरिः हरः!!
पूर्वक लेख
बादक लेख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 + 6 =