जारी भेल ‘विश्व मैथिल सम्मेलन’ केर आवरण परिकल्पना चित्र

१४ जनवरी २०२०। मैथिली जिन्दाबाद!!
 
अखिल भारतीय मिथिला संघ, नई दिल्लीक तत्त्वावधान मे आगामी मार्च मास २७ सँ २९ तारीख धरि आयोजित होमय जा रहल “विश्व मैथिल सम्मेलन” केर आवरण परिकल्पना चित्र (पोस्टर) जारी कयल गेल अछि।
 
आयोजक संस्थाक लोगोक नीचाँ मे मिथिलाक ५ महत्वपूर्ण लोकपुरुष केर चित्रक संग सम्मेलनक नाम, तिथि ओ स्थानक जिक्र करैत सहभागी लोकनि लेल सम्पर्क सूत्र उपलब्ध कराओल गेल अछि।
 
संघक अध्यक्ष विजयचन्द्र झा संग भेल बातचीत मे ओ कहलनि जे पूरे विश्व भरि पसरल मैथिल पहिचानधारी केँ भारतक राजधानी दिल्ली मे सम्मेलन करबाक कार्यक्रमक नाम थिक “विश्व मैथिल संघ”। अखिल भारतीय मिथिला संघ भारतक एक सर्वथा पुरान आ मजबूत मैथिलक संघ थिक आर एहि तरहक वृहत् परिकल्पनाक आयोजन करबाक अनेकौं अनुभव रहबाक कारण एहि विश्व सम्मेलनक स्वामित्व आ दायित्व सेहो संघ केँ लेबाक चाही से मनोभाव ओ व्यक्त कयलनि। संगहि एहि तरहक विशाल सम्मेलन केँ सफल बनेबाक लेल आपसी विमर्श आ सलाह-सुझाव संग सहभागिता कोना बढत ताहि लेल सभ केँ तत्परता सँ सहकार्य करैत संघक सपना पूरा करबाक आह्वान सेहो कयलनि।
 
कोनो सम्मेलन अथवा कार्यक्रम केँ सफलतापूर्वक आयोजन करबाक वास्ते एकटा सक्षम रणनीति, कार्यनीति, कार्ययोजना, आदिक पटकथा (साहित्य) आवश्यक होइत छैक। एहि साहित्य केँ पूरा करबाक लेल संघक मजबूत माथ ऋतेश पाठक संग चर्चा मे ज्ञात भेल जे प्रवासक्षेत्र मे कार्यरत मैथिल संघ-संस्था संग सहकार्य करैत उपलब्धिमूलक सम्मेलन करबाक योजना अछि। एहि लेल निर्माण कयल गेल व्हाट्सअप ग्रुप मे सेहो विभिन्न देश मे अपन भाषा, संस्कृति आ पहिचान लेल समर्पित व्यक्तित्व लोकनि केँ जोड़बाक कार्य पिछला कइएक मास सँ निरन्तरता मे अछि।
 
जारी परिकल्पना चित्र मे बैकग्राउन्ड कलर ‘स्काई’ यानि आकाशी रंग राखि परिकल्पक अपन मजबूत संकल्प केँ उजागर कयलनि अछि जे ई सम्मेलन सिर्फ नामहि टा के नहि अपितु सौंसे आकाशक छत्रछाया मे जीवित सम्पूर्ण पृथ्वीपर मौजूद धरातल सँ बजायल जेताह। तखन त सहभागिता सँ पूर्व कोन तरहक लक्ष्य आ उद्देश्य लेल ओ लोकनि औता एहि बात लेल एखन प्रतीक्षा बनल रहत, जा धरि सम्पूर्ण कार्ययोजना प्रकाशित नहि भऽ जाइछ।
 
मैथिली जिन्दाबाद केर तरफ सँ हार्दिक शुभकामना!!
 
हरिः हरः!!
पूर्वक लेख
बादक लेख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 + 6 =