मैथिली-मिथिलाक अपूर्व सहयोगी मित्र वरुण बाबूक सारिक विवाहक संस्मरण

वरुण बाबूक सारि केर विवाह पर विशेष स्मरण

आउ, चर्चा करी अपन एक सहृदयी मित्र श्री वरुण मिश्र केर – ओना त ई एकटा व्यक्तिगत भावनाक बात थिक, लेकिन जानकी जी केर प्रेरणा सँ ई बात आम पाठक लेल लिखब सेहो जरूरी बुझलहुँ।

मैथिलीक हर काज मे ई आगू छथि,

नेपाल-भारत केर मैत्री मे ई सदैव सुन्दर योगदान दैत आबि रहला अछि,

मिथिला संस्कृति आ सभ्यताक रक्षा लेल निरन्तर चिन्तन करब हिनकर विशेषता छन्हि,

हिन्दी भाषाक संचारकर्म ‘हिन्दुस्तान’ दैनिक समाचारपत्र मे समाचार लेखन आ बड़ा सादा जीवन ओ उच्च विचार केर अनुगामी व्यक्तित्व सेहो छथि,

ताहि सब सँ बहुत पैघ बात जे हमर कक्षामित्र, बालसखा, भाइ आ निरन्तर सहयोगी छथि,

आर एतेक सब गुण एक व्यक्ति वरुण मिश्र मे छन्हि। कमी-कमजोरी सेहो हर प्राणी मे होइत छैक, लेकिन हिनकर कमी-कमजोरी हमरा लेल नगण्य एहि लेल रहल जे सार्थक आ महत्वपूर्ण स्थान पर हिनकर योगदान उच्चतम् रहल अछि। हँ, तखन रुसबाक अन्दाज हिनकर बड़ा गज्जब छन्हि। एतेक हमर घरवाली रुसैत छथि तैयो हम नहि मनबैत छी, ततेक हिनका मनाबय पड़ि जाइत अछि। पिनकाह लोक, कनिके किछु कहि दियौन कि पिनैक जेता…. लेकिन सेहो जल्दी नहि, साल मे एक या दू बेर पिनकैत छथि। सामने-सामनी नहि, परोक्ष मे बेसी पिनकैत छथि। ई सब २-३ टा शिकायत एक मित्रक तौर पर हमर रहल अछि लेकिन पहिने कहि देलहुँ…. हिनकर सकारात्मक योगदान आ केहनो चुनौतीपूर्ण कार्य केँ सहज ढंग सँ समाधान निकाल, से बात खास अछि।

हालहि अपन सारि केर विवाह करौलनि वरुण बाबू। ताहि विवाह मे सेहो अवर्णनीय नेपाल-भारत मैत्रीक वातावरण देखायल। एक सहज-सुन्दर संचारकर्मी होयबाक संग-संग सहयोगी व्यक्ति होयबाक कारण ई कोनो हमरे मित्र छथि से बात नहि, हिनकर मित्रता हमरा सब सँ बहुत फराक आ विस्तृत क्षेत्र मे छन्हि। ओ चाहे पुलिस अधिकारी होइथ, चाहे प्रशासनिक पदाधिकारी होइथ, चाहे आर्मी या एसएसबी या फेर राजनीतिक क्षेत्र मे एमपी, एमएलए आ कि मुख्यमंत्री होइथ, कस्टम्स पदाधिकारी होइथ कि बैंक, रेलवे, इन्स्योरेन्स आ से कोनो जोगबनी, अररिया (भारतीय क्षेत्र) केर मात्र नहि, विराटनगर, राजविराज, जनकपुर, काठमान्डू (नेपाल) सब तैर हिनकर सहमेलक एक सँ एक पुरोधा व्यक्तित्व भेटि जाइत छथि। आर ताहि सँ अपन सारि केर विवाह करेबाक लेल वरुण बाबू विराटनगर मे एकटा नव आदर्श केर स्थापना कयलनि जतय एक सँ बढिकय एक व्यक्तित्व जमा भेलाह। सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक – सब क्षेत्रक लोक सब आयल छलाह। बड़ा शालीनता सँ सब कियो वरुण बाबूक आमंत्रण पर एहि विवाह यज्ञ केँ पूर्ण कयलनि।

प्रदेश १ (नेपाल) केर विपक्षी दल नेपाली कांग्रेसक सचेतक केदार कार्की, तहिना दोसर विपक्षी दल समाजवादी पार्टीक नेता जयराम यादव, सत्तारुढ दल नेपाल कम्युनिष्ट पार्टीक प्रदेश सांसद लीला बल्लव अधिकारी, संघीय सांसद मोती दुग्गड़, प्रदेश सांसद (नेपाली कांग्रेस) चुमनारायण तवदार, पूर्व संविधान सभा सांसद व मोरंग व्यापार संघ केर अध्यक्ष पवन शारडा, व्यवसायी राजकुमार अग्रवाल, ताराचंद खेतान, मोरंग व्यापार संघक उपाध्यक्ष प्रकाश मुंधड़ा, बागमती प्लास्टिक केर उद्योगपति मालिक नंदकिशोर राठी, चर्चित समाजसेवी उद्यमी नंदकिशोर तापड़िया, समाजसेवी आ राजनीतिकर्मी दिलीप धारेवा, नेपाली कांग्रेसक युवा नेता राजेश गुप्ता, मोरंग व्यापार संघक कार्यकारिणी सदस्य अनिल साह, गुटखा किंग अनिल दुग्गड़, सामाजिक-राजनीतिक अभियन्ता चंदू धारेवा, मैथिली सेवा समिति केर संस्थापक अध्यक्ष डॉ सुरेंद्र नारायण मिश्र एवं हुनक नेतृत्व मे २५ सदस्य जे रातिक २ बजे धरि सम्पूर्ण अतिथि लोकनिक स्वागत-सत्कार लेल हाजिर रहलाह – बहुचर्चित समाजसेविका ओ राजनीतिक अभियानी बसुंधरा झा सपति राजेश झा, श्याम पौडेल एवं सामाजिक विकास मंत्री (प्रदेश १) माननीय जीवन घिमिरे – ई लोकनि वरूण बाबूक सारि केर विवाह मे उपस्थिति देलनि जे वास्तव मे हिनकर सहज-सुन्दर-लोकप्रिय व्यक्तित्व प्रति एक गोट उच्च समर्पण कहल जा सकैत अछि।

वरूण बाबूक धर्मपत्नी श्रीमती माला मिश्र जिनकर छोट बहिनक विवाह छलन्हि, हिनका लोकनिक उपस्थिति त सहजहि अहोरात्रि जरूरी छल। ई लोकनि मंत्री जी व अन्य अतिथि लोकनि केँ मिथिलाक पारम्परिक सम्मानक प्रतीक पाग पहिराकय सब अतिथि लोकनिक स्वागत-सत्कार कय मिथिलाक खानपान ओ बात-व्यवस्था सँ परिचित करौलनि। आरो अतिथि लोकनि मे शिवरतन जोशी, विनीत धारेवा, पंकज वर्मा, नवीन कर्ण, महेश सोनी, पुष्प कुमार मुंधड़ा, मोहित लालवानी, पवन सुराना, डॉ सुशील तापड़िया, सनातन मंडल, आदि अनेकानेक प्रसिद्ध आ चर्चित व्यक्तित्व लोकनि एहि मे सहभागिता देलनि। तहिना भारत सँ फारबिसगंज विधायक विद्यासागर केसरी ऊर्फ मंचन केशरी, अखिल भारतीय परशुराम सेवा समितिक राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व एनडीए नेता अजय झा, भाजपा अररिया उपाध्यक्ष मनोज झा, भाजपा नेता भानु प्रकाश राय, जोगबनी भाजपा मंडल अध्यक्ष राजनंदन यादव, भाजपा नेता दिलीप कुंवर, संजय अग्रवाल व छगन शर्मा आदि भाग लेलनि।

हरेक वर्ष ‘अन्तर्राष्ट्रीय विद्यापति महोत्सव’ केर आयोजन करैत आबि रहला वरुण बाबू एवं धर्मपत्नी मालाजी आइ जोगबनी आ अररिया जिला केँ मैथिलीमय कय देलनि अछि। बहुतो वर्ष सँ लोक केँ अपन भाषा आ संस्कृति सँ जे दूरी बनि गेल छल, से हिनका लोकनिक कारणे एक बेर फेर अपन घर-वापसी करय मे प्रेरित भेलाह अछि। एतबा नहि, एतय विराटनगर मे २०१० सँ जे हमर नेतृत्व मे विद्यापति स्मृति पर्व समारोह मैथिली सेवा समिति द्वारा कयल गेल लगातार ५ वर्ष ताहि मे पर्यन्त हिनकर सहयोग उच्चतम् रहल। सांसद सुखदेव पासवान, विधायक लक्ष्मी मेहता, भाजपा नेता मंजू वर्मा, वरिष्ठ सामाजिक-राजनीतिक अभियन्ता शंभुनाथ मिश्र, प्राचार्य नित्यानन्द लाल दास, रोज पब्लिक स्कूल मधुबनीक संचालक नर्मदेश्वर झा, हिन्दुस्तान केर राजनीतिक संपादक विनोद बंधु, ब्राह्मण समाज अररियाक अध्यक्ष अजय झा सहित अनेकानेक महत्वपूर्ण व्यक्तित्व केँ विराटनगर केर मैथिली गतिविधि सँ जोड़बाक आ हुनका लोकनिक आशीर्वाद सँ हमरा सब केँ आशीर्वादित बनेबाक कार्य वरुण बाबू कयलनि अछि। मैथिलीक गतिविधि मे हिनक ई योगदान ता-उम्र स्मृति मे रहत। हिनकर सफलता लेल कोटि-कोटि शुभकामना!!

हरिः हरः!!

पूर्वक लेख
बादक लेख

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 + 3 =