Home » Archives by category » Editorial

मिथिलानी सभक बढैत सहभागिता मिथिला लेल शुभ संकेत दैत अछि

मिथिलानी सभक बढैत सहभागिता मिथिला लेल शुभ संकेत दैत अछि

विशेष सम्पादकीयदिल्लीक रविन्द्र भवन – मेघदूत परिसर मे आयोजित छल २ दिवसीय मलंगिया महोत्सव। अन्तर्राष्ट्रीय मैथिली साहित्य एवं सांस्कृतिक महोत्सव – मैथिलीक महान नाटककार-विद्वान् व्यक्तित्व श्री महेन्द्र मलंगिया पर केन्द्रित एहि कार्यक्रमक संयोजन कएने छलाह श्री ऋषि कुमार झा ‘मलंगिया’। मधुबनी जिलान्तर्गत एक गामक नाम थिक ‘मलंगिया’। परञ्च एहि गामक एक सुपुत्र जखन मैथिली साहित्यक […]

मिथिला कला साहित्य आ फिल्म महोत्सव पर प्रवीण विचार

मिथिला कला साहित्य आ फिल्म महोत्सव पर प्रवीण विचार

माल्फ – सहरसा   मिथिला कला साहित्य आ फिल्म महोत्सव   २८, २९ आ ३० दिसम्बर – त्रिदिवसीय आयोजन आखिरकार २०१८ ई. केर अन्त मे भव्यताक संग संपन्न भेल। मैथिली भाषा-साहित्य, कला-संस्कृति, फिल्म, पुस्तक प्रदर्शनी लेल जहिना २०१८ केर आरम्भ भारतक राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सँ भेल, तहिना सुन्दर समापन मिथिलाक मूल धरती सहरसा मे आबिकय […]

मैथिली गीत-संगीत-मनोरंजन केर दुनिया मे कथित सम्भ्रान्त समाजक सेंशरशीप सिर्फ एक मिथ्याचार

मैथिली गीत-संगीत-मनोरंजन केर दुनिया मे कथित सम्भ्रान्त समाजक सेंशरशीप सिर्फ एक मिथ्याचार

किछु अहिना-ओहिना: मैथिलीक मंच आ अश्लीलताक परिभाषा तकैत प्रवीण   आजुक युग मे ढोलक-झालि-मृदंग आदि पुरना जमानावला बाजा सब बड कम चलैत अछि। रसनचौकी सँ अंग्रेजी बाजा मिथिला समाज मे सेहो बड़ा सख सँ लोक बजबय लागल। आर जेना-जेना जेबी मे माल बढल गेल, साउन्ड सिस्टम आ बाजा सिस्टम सब सेहो चेन्ज होइत गेल अछि। […]

यैह खास बात मैथिली केँ चौजुगी जिया रहल अछि, सन्दर्भ राजविराज मे मिलाफक विद्यापति स्मृति

यैह खास बात मैथिली केँ चौजुगी जिया रहल अछि, सन्दर्भ राजविराज मे मिलाफक विद्यापति स्मृति

विशेष सम्पादकीय ‘कातिक धवल त्रयोदसी जान, विद्यापतिक आयु अवसान’ – एहि पाँति सँ निकलल अछि विद्यापति स्मृति दिवस यानि कार्तिक मासक शुक्ल पक्षक त्रयोदसी तिथि केँ महाकवि विद्यापतिक अवसान दिवस यानि पुण्य तिथि होयबाक मान्यता स्थापित अछि। एहि वर्ष २१ नवम्बर केँ विद्यापति स्मृति दिवस पड़ल। पूरे विश्व मे रहनिहार मैथिलीभाषी महाकविक पुण्य तिथि केँ […]

मिथिलाक लोकपाबैन आ लोकजीवन मे समानताक अनुपम दृष्टान्त सामा-चकेवा पाबैन मे

मिथिलाक लोकपाबैन आ लोकजीवन मे समानताक अनुपम दृष्टान्त सामा-चकेवा पाबैन मे

सामा-चकेवाक विदाई करैत सब भावुक बनि गेल मिथिला मे   गाम-गाम केर दाय-माय लोकनि विगत १० दिन सँ सामा-चकेवा, सतभैयाँ, सुग्गा, मेना, तितिर, बटेर, कुकुर, चुगला, आर हरियर-हरियर मिथिला प्रदेश मे रहयवला विभिन्न चरा-चुरुंगीक मूर्ति बनाकय ‘सामा-चकेवा’ केर नैहर आगमन पर जे अलग-अलग एपिसोड यानि जेना माँ-पिताक घर मे विवाहित बेटी अपन पतिक संग अबैत […]

जनकपुर एलाह जानकी सँ नोत लेबय मैथिल भाइ लोकनि – भारत-नेपाल मैथिली सांस्कृतिक एकता

जनकपुर एलाह जानकी सँ नोत लेबय मैथिल भाइ लोकनि – भारत-नेपाल मैथिली सांस्कृतिक एकता

विशेष सम्पादकीय ‘मिथिलायां भव: मैथिल:’ – याज्ञवल्क्य संहिताक एहि प्रसिद्ध पाँति केँ पुनर्स्थापित करबाक लेल जनकलली जानकी केँ बहिन माननिहार मिथिलावादी सामाजिक-राजनीतिक कार्यकर्ता लोकनि भारतीय मिथिलाक दरभंगा सँ नेपालीय मिथिलाक केन्द्रीय भूमि राजा जनकक राजधानी जनकपुर मे आबिकय भरदुतियाक विशेष अवसर पर जानकी सँ नोत लेबाक लेल अयलाह। आइ दुइ देश मे प्रतिष्ठापित मिथिला केर […]

कि मैथिली भाषाभाषी दर्शक सुसुप्त अछि? या मृतप्राय?

कि मैथिली भाषाभाषी दर्शक सुसुप्त अछि? या मृतप्राय?

सन्दर्भ – एक बेहतरीन लगानी सँ निर्माण कयल गेल फिल्म लेल दर्शक गौण   विशेष सन्दर्भ – इतिहास मे पहिले बेर नेपाल आ भारतक दर्जनों सिनेमा घर मे एक साथ रिलीज्ड मैथिली फिल्म – “प्रेमक बसात”   काल्हि सँ दिमाग मे तूफान मचल अछि जे एतेक खर्च, लगन आ मार्केटिंग केर सब थ्योरी केँ प्रैक्टिकली […]

मैथिली फिल्म प्रेमक बसात जोड़ि देलक सम्पूर्ण मिथिला केँ, समीक्षा बाद मे पहिने हाउसफूल करू सगरो

मैथिली फिल्म प्रेमक बसात जोड़ि देलक सम्पूर्ण मिथिला केँ, समीक्षा बाद मे पहिने हाउसफूल करू सगरो

विशेष सम्पादकीय – समाचार संपादक किसलय कृष्ण मैथिली फिल्म प्रेमक बसात मादे मैथिली_सिनेमाक_ऐतिहासिक_मोड़_प्रेमक_बसात …….आजुक दिन ओहि तमाम लोक लेल हर्षक दिन अछि, जे बेर बेर अप्पन मोनमे, अप्पन शब्दमे #मैथिली_फिल्म_उद्योग केर संकल्पना गढ़ैत छथि, तिनका सभक लेल हर्षानुभूतिक पल थीक । आइ ओहि तमाम आंदोलनीक लेल सीख लेबाक दिन अछि जे मिथिला राज्यक सपना तऽ देखैत छथि […]

नेपालक मिथिला ‘प्रदेश २’ मे मैथिली लेल प्रयासक संग-संग षड्यन्त्रकारी विरोध निरन्तरता मे

नेपालक मिथिला ‘प्रदेश २’ मे मैथिली लेल प्रयासक संग-संग षड्यन्त्रकारी विरोध निरन्तरता मे

मैथिलीक समर्थन आ विरोधः नेपाल मे बड पैघ इतिहास कायम होबय जा रहल अछि एक दिश मैथिली भाषा आ साहित्य लेल निरन्तर चिन्ता कयनिहार वर्ग द्वारा प्रदेश २ केर सरकार सँ मैथिली संग-संग भोजपुरी भाषा केँ राजकाजक भाषा बनेबाक मांग करैत जनताक मौलिक मातृभाषा आ शिक्षा पद्धतिक संग अपन भाषिक पहिचान केर आधार पर सरकारी […]

मैथिली-मिथिलाक जीवन्तता-अमरताक एकमात्र सूत्र – व्यक्तिगत योगदान आ स्वयंसेवा

मैथिली-मिथिलाक जीवन्तता-अमरताक एकमात्र सूत्र – व्यक्तिगत योगदान आ स्वयंसेवा

व्यक्तिगत योगदान आ स्वयंसेवा हमर मूल पूँजी व्यक्तिगत योगदान सँ बेसी जिबैत अछि मैथिली। स्वयंसेवा केर कर्म-सिद्धान्त मिथिलाक लोक केर मूल धर्म आ मुख्य पूँजी रहल अछि। राज्य केर तरफ सँ पोखरि आ इनार आ कि सार्वजनिक हित केर काज एखन धरि ओतेक नहि देखाइछ जतेक कि स्वयं अपन लोक आ ओकर हित लेल गाम-समाज […]

Page 1 of 28123Next ›Last »