Home » Archives by category » Article » Opinion

सरदार पटेल या नरेन्द्र मोदीक खोज मिथिला लेल जरूरी (विमर्श)

सरदार पटेल या नरेन्द्र मोदीक खोज मिथिला लेल जरूरी (विमर्श)

एक जरूरी विमर्श – विद्वानक सहभागिता वांछित सन्दर्भ – मिथिलाक आर्थिक विकास मे उद्यमशीलताक भूमिका  मैथिली मे संचारकर्म केर धर्म केँ निभबैत, विद्यमान समाज मे मिथिला प्रति चिन्तन-मनन केँ निरन्तरता देबाक लेल आजुक ई विमर्श अछि। एहि मे रुचि रखनिहार तथा उपयुक्त योग्यता सँ योगदान देनिहारक सहभागिता मात्र जरूरी अछि। सर्वप्रथम ध्यानाकर्षण आ अपनेक जवाब […]

राष्ट्रीय जनगणना २०७८ नेपाल आ मैथिली सेवा समिति विराटनगर केर वृहत्-विचार-विमर्श कार्यक्रम

राष्ट्रीय जनगणना २०७८ नेपाल आ मैथिली सेवा समिति विराटनगर केर वृहत्-विचार-विमर्श कार्यक्रम

राष्ट्रीय जनगणना २०७८ नेपाल आ मैथिली सेवा समिति विराटनगर केर वृहत्-विचार-विमर्श कार्यक्रम मे प्रवीण विचार ६ जनवरी २०२१, जानकी सेवा सदन, विराटनगर मे ३ बजे सँ ६ बजे सम्पन्न कार्यक्रम मे राखल गेल विचारक प्रति निम्न अछिः मैथिली सेवा समिति द्वारा आयोजित आजुक वृहत् विचार विमर्श कार्यक्रम जेकर उद्देश्य मैथिली भाषा, साहित्य, संस्कृति तथा कला […]

मिथिला केँ दहेज सँ मुक्ति दियेबाक लेल हम-अहाँ कि करबैक?

मिथिला केँ दहेज सँ मुक्ति दियेबाक लेल हम-अहाँ कि करबैक?

दहेज मुक्त मिथिला – जरूरी सवाल-जवाब १. फेसबुक सँ दहेज मुक्त हेतैक मिथिला? उ. फेसबुक पर हम-अहाँ हजारों के संख्या मे जुड़ल छियैक आर दहेज प्रथा सँ मुक्त स्वच्छन्द समाजक निर्माण लेल बेर-बेर सोचैत छियैक। कोनो परिवर्तन लेल पहिने सोच-विचार प्रक्रिया आरम्भ होयब जरूरी होइत छैक। एहि तरहें ‘दहेज मुक्त मिथिला’ नामहि सँ हमरा-अहाँ मे […]

दहेज प्रथा और मैं – एक जरूरी हिन्दी लेख

दहेज प्रथा और मैं – एक जरूरी हिन्दी लेख

लेख – प्रवीण नारायण चौधरी दहेज प्रथा और मैं   एक लेख हिन्दी में – उनलोगों के लिये जो अक्सर हिन्दी ही लिखते रहते हैं, हिन्दी लिखने-पढने में सहजता की बातें करते हैं…! लेख की ओर बढें…. आप भी अपना विचार जरूर लिखेंगे, अनुरोध है।   अक्सर देखने में आया है कि ‘दहेज प्रथा’ के […]

अन्तर्राष्ट्रीय मैथिली सम्मेलन – विश्व भरिक मैथिलीभाषी केँ एकजुट करबाक अचूक आयोजन हो

अन्तर्राष्ट्रीय मैथिली सम्मेलन – विश्व भरिक मैथिलीभाषी केँ एकजुट करबाक अचूक आयोजन हो

विचार – प्रवीण नारायण चौधरी नीक बातक अनुकरण करैत बढब जरूरी छैक सन्दर्भः मैथिली-मिथिला लेल आयोजित विभिन्न कार्यक्रम आ ओकर पैटर्न विगत एक दशक सँ जे किछु अनुभव भेल, जगह-जगह पर आयोजित मैथिली भाषा व मिथिला संस्कृति प्रति केन्द्रित कार्यक्रम मे सहभागिता आ भ्रमण संग भिन्न-भिन्न व्यक्तित्व सभक संग भेंटघाँट सँ – ताहि आधार पर […]

स्वयंसेवाक भाव सँ भाषा, भेष ओ भूषणक काज करू

स्वयंसेवाक भाव सँ भाषा, भेष ओ भूषणक काज करू

बात बुझू साफ-साफ प्रसंगः मैथिली भाषा केँ तोड़बाक कुचक्र आ अनावश्यक चिन्ता पर प्रवीण विचार ई कलियुग थिक। एखन बेसी लोक अपन स्वार्थ आ भूख मे ओझरायल अछि। परोपकार आ दस के हित के काज लेल बहुत कम लोक उद्यत् होइछ। मैथिली आ कि मिथिला केकरो स्वार्थ नहि थिकैक। ई परोपकारी सभक स्वनिर्णय थिकैक। एहि […]

भारत आ नेपाल केर जनगणना आ मैथिली – किसलय कृष्ण केर विचार

भारत आ नेपाल केर जनगणना आ मैथिली – किसलय कृष्ण केर विचार

विचार – किसलय कृष्ण पहिचानक स्थापना आ भाषिक अधिकार लेल अनिवार्य अछि जनगणना मे मातृभाषाक प्रविष्टि जनगणनाक समय आबि गेल अछि, से प्राय: भारत आ नेपाल दुनू राष्ट्र मे । जनगणना मात्र जनक गणना नहि अपितु कैकटा विन्दुक महत्वपूर्ण दस्तावेज होइत अछि, जाहि आधार पर हमरा सभ केँ विभिन्न संवैधानिक अधिकार भेटल करैत अछि । […]

नेपाल मे जनगणना – अपन मातृभाषा मे मैथिली लिखेनाय नहि बिसरब

नेपाल मे जनगणना – अपन मातृभाषा मे मैथिली लिखेनाय नहि बिसरब

८ दिसम्बर २०२० । मैथिली जिन्दाबाद!! नेपालक आगामी जनगणना मे मातृभाषा आब किछुए समय मे नेपालदेशक नव जनगणना होयत। नया जनगणना मे विविध बात पर तथ्यांक संकलन करैत नीति-नियन्ता लोकनि राज्य आ प्रजा बीच सुमधुरता बढेबाक, सरकारी सुविधा बहाल करबाक आ आरो राज्य संचालनक विभिन्न पक्ष केँ ध्यान रखबाक कार्य करता। जनगणना मे तथ्यांक संकलन […]

कोरोना सँ भय नहि बल्कि सुरक्षा उपाय अपनेनाय जरूरी

कोरोना सँ भय नहि बल्कि सुरक्षा उपाय अपनेनाय जरूरी

कोरोना आ हम हमर किछु प्रिय पाठक लोकनिक अनुरोध पर ई लेख लिखि रहल छी। एहि कोरोनाकाल में सम्भवतः ई लेख जनसामान्य लेल उपयोगी होयत। विदित हो जे पिछला 12 दिन सँ हम कोविड 19 (SARS CoV 2) पॉजिटिव छी, एखनहुँ आइसोलेशन में रहैत स्वयं केर रोगनिरोधी सामर्थ्य (immunity) केँ बेहतर बनेबाक प्रयास कय रहलहुँ […]

जँ बेटी केँ सुखी देखबाक इच्छुक छी तँ कि करबाक चाही

जँ बेटी केँ सुखी देखबाक इच्छुक छी तँ कि करबाक चाही

विचार – जय शंकर चौधरी की चाही…? बेटी केर संस्कार, विचार और व्यवहार वा दान दहेज? आग्रह एक बेर पोस्ट के पढ़ियौ आ अपन प्रतिक्रिया व्यक्त करियौ! दान, दहेज भेटला सँ सब बेटाक माँ-बाप के अत्यधिक खुशी होइत छैन्हि! मुदा कहि दी, ई खुशी क्षणिक छी। असली खुशी, परिवार कें, बेटीक संस्कार, विचार आ व्यवहार […]

Page 1 of 47123Next ›Last »