Home » Archives by category » Article » Culture (Page 263)

अपन गामक मतदाता केँ जाग्रत करू: पत्र लिखू

अपन गामक मतदाता केँ जाग्रत करू: पत्र लिखू

आगामी विधानसभा चुनावक मद्दे नजरि ‘प्रजातंत्रक महापर्व’ मे जनताक सहभागिता लेल ‘बाहुबल, धनबल, दारूबल, जातिबल, धर्मबल’ आदिक प्रतिकार करैत ‘उपेक्षाक अन्त, विकासक आरंभ’ नारा पर चुनाव लड़बाक लेल नेतृत्वकर्ता पर दबाव देब जरुरत अछि। मैथिली जिन्दाबाद आम जनमानस मे एहि लेल जनजागृतिक आह्वान करैत प्रवासी मतदाता सब सँ गाम-गाम चिट्ठी लिखबाक अनुरोध करैत अछि। प्रवासी […]

सुरुजक छाहरि मे (मैथिली पोथी: कविता संग्रह): लेखक मनोज शाण्डिल्य

सुरुजक छाहरि मे (मैथिली पोथी: कविता संग्रह): लेखक मनोज शाण्डिल्य

उलहन   – मनोज शाण्डिल्य   धुर केहन बड़द सन मनसा हमरा देलें ताकि गे नहि बाजै छै अप्पन भासा जीह गेल छै पाकि गे……….   ढउआ कैंचा हम की करबै हमरा लेल बलाय गे भरि पिरथी पर क्यो नहि भेटलौ माटिक पुत जमाय गे….   जे नहि पूजतै माय के अप्पन हैत ने हम्मर […]

सिखीं हो मैथिल भाई लोग – हिनका से प्रेरणा लीं!!

सिखीं हो मैथिल भाई लोग – हिनका से प्रेरणा लीं!!

जुलाई २, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! आउ आइ भेटी एकटा एहेन महान् शख्स सँ जे असगरे दुनियाक एकटा मुख्य विकासशील भाषाक स्थापित करबाक लेल संघर्ष कय रहला अछि। ओना तऽ बाजार-मूल्य अनुसार मैथिली सँ बहुत बेसी आगाँ भोजपुरी अछि, आ एकर लोकप्रियता मैथिली केँ बहुत पाछाँ छोड़ि विश्व केर कतेको देश धरि अपन प्रखर विस्तार कय […]

मिथिला: मार्कण्डेय काटजू

मिथिला: मार्कण्डेय काटजू

मिथिला– मार्कण्डेय काटजूहमर पूर्वक पोस्ट द्वारा महान न्यायिक दार्शनिक उद्यानाचार्य, सुविख्यात नीतिशास्त्र ‘न्याय कुसुमाञ्जलि’ केर रचयिता जे मिथिला सँ छलाह तिनकर संदर्भ देल गेल छल। मिथिला, उत्तरी बिहारक एक क्षेत्र, (आंशिक अवस्थिति नेपालहु मे) भारतक एहि भूभाग जतय हम एखन धरि नहि जा सकलहुँ, मुदा मृत्यु सँ पहिने कम सँ कम एक बेर जरुर जाय […]

मैथिली-मिथिला केँ नहि चाही भीड़तंत्र: कर्मठता देखाउ, दोसरक चरित्र-चित्रण छोड़ू

मैथिली-मिथिला केँ नहि चाही भीड़तंत्र: कर्मठता देखाउ, दोसरक चरित्र-चित्रण छोड़ू

विशेष संपादकीय मैथिली-मिथिलाक कोनो कार्यक्रम होयत तऽ स्वाभाविके ओतय विशिष्ट विद्वानक बेसी उपस्थिति होयत। संयोगवश जँ आम जनता ओतय पहुँचि गेल तऽ मंत्रमुग्ध होइत सबहक मुंह सँ बहि रहल अमृत पीबि एतेक तृप्त होइत अछि जेकरा बखानय लेल शब्द कम पड़ैत अछि। एहि बीच किछु मानसिकता एहनो रहैछ जे सभा मे खाली कुर्सी दिशि ताकि […]

मिथिलावासी, अपन पूर्वजक पहिचान करू! जातिक नाम बाद मे पूछापूछी करब!!

मिथिलावासी, अपन पूर्वजक पहिचान करू! जातिक नाम बाद मे पूछापूछी करब!!

आलेख – प्रवीण नारायण चौधरी मैथिल (पौराणिक पहिचान) शुक्लां ब्रह्मविचारसारपरमामाद्यां जगद्व्यापिनीं वीणापुस्तकधारिणीमभयदां जाड्यान्धकारापहाम्। हस्ते स्फटिकमालिकां विदधतीं पद्मासने संस्थितां वन्दे तां परमेश्वरीं भगवतीं बुद्धिप्रदां शारदाम्॥ मा सरस्वतीक चरणकमल मे बेर-बेर प्रणाम करैत एकटा छोट संस्मरण लिखय लेल चाहब। एहि संस्मरण यात्रा पर पाठक वर्ग केँ आनबाक एकमात्र उद्देश्य यैह अछि जे हमरा लोकनिक उद्गमविन्दु (मातृभूमि) मिथिला […]

चराचर जगत्पति सहस्रशीर्ष पुरुष प्रति समर्पित: स्वाध्यायांश

चराचर जगत्पति सहस्रशीर्ष पुरुष प्रति समर्पित: स्वाध्यायांश

स्वाध्याय (आध्यात्मिक वृत्तांत) पवित्र चतुर्मास मे पुरुष सूक्तक नित्य पाठ जरुर करबाक बात कैल गेल अछि। मैथिल हिन्दू जनमानस मे समस्त कर्म करबा मे पुरुष सूक्त केर उपयोगिता सर्वमान्य अछि। ओना तऽ शौचादि सँ निवृत्त होइत स्नानादिक उपरान्त एकर विशेष लाभ होयत, लेकिन आजुक कलियुग आ खास कऽ के जखन लोक फेसबुक आदि लसैड़ सँ […]

डा. तोतरा हा केर खिस्सा

डा. तोतरा हा केर खिस्सा

नैतिक कथा: कमजोरियो केँ शक्ति बनायल जा सकैत छैक! – प्रवीण नारायण चौधरी एकटा तोतराह छौड़ा मिथिला सँ भागिकय डा. तोतरा हा बनिकय खूब प्रतिष्ठा कमेलक। मैथिली मे ओकरा सब तोतराहा कहैत छलैक। तोतराहा माने बाजय मे लटपटेनाइ, आवाज साफ नहि निकलनाय, हकलाहट आदि होइत छैक। मैथिलीभाषी केँ माने एहि लेल याद कराबय पड़ि रहल […]

मिथिला राज्य कियैक: गणराज्य मे राज्य स्थापना लेल मिथिलाक औचित्य

मिथिला राज्य कियैक: गणराज्य मे राज्य स्थापना लेल मिथिलाक औचित्य

मिथिला राज्य किऐक? Why Mithila Rajya? भारत स्वतंत्र भेलाक बाद संघीय गणतांत्रिक राष्ट्र बनल, केन्द्र तथा राज्य सरकार द्वारा संविधान केर शासन सँ देश संचालित हेबाक निर्णय भेलैक। मिथिला भारतक अभिन्न हिस्सा आदिकालीन इतिहास, पूर्ण संस्कृति, संपन्न आ विकसित भाषा, लोकसंस्कृति, विशिष्ट पहिचान सहित केर क्षेत्र रहल अछि। इतिहास मे ‘मिथिलादेश, बज्जिप्रदेश, तिरहुत, विदेहराज्य, आदि’ […]

बाबा अमर नाथ केर दर्शन लेल तीर्थयात्राक भेल उद्घाटन, मिथिलाक यात्री सब आइ करता प्रस्थान

बाबा अमर नाथ केर दर्शन लेल तीर्थयात्राक भेल उद्घाटन, मिथिलाक यात्री सब आइ करता प्रस्थान

जम्मू – भाषा समाद। जुलाई १, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! जम्मू कश्मीर केर स्वास्थ्य मंत्री चौधरी लाल सिंह आइ लखनपुर आधार शिविर सँ 5,100 अमरनाथ यात्री केर पहिल जत्था केँ हरा झंडी देखाकय रवाना केलनि। एक आधिकारिक प्रवक्ता बतेलनि, ‘राज्यक स्वास्थ्य मंत्री चौधरी लाल सिंह 5,100 श्रद्धालुक पहिल जत्था केँ दक्षिण कश्मीर जिलाक अनंतनाग स्थित हिमालय केर […]