Home » Archives by category » Article » Literature (Page 26)

रातिकेर चनबा पसरबा सँ पहिने

रातिकेर चनबा पसरबा सँ पहिने

– सियाराम झा सरस   कालकेर कागत ससरबा सँ पहिने गीत कते लीखब जरूरी अछि भाइ रे! रातिकेर चनबा पसरबा सँ पहिने आतुरता होइछ जेना पाँतर टपाइ रे!   कत’-कहाँ नान्हिटा-टा नव-उड़ाँत-चुनमुनन्नी उड़ल जाय चुनबालै दाना घुरती मे पटना-बरौनी मे देखए जे लुटा गेल घोघक खजाना चिंता अछि गाम पैर धरबा सँ पहिने बिलड़ा सँ […]

सुनु-सुनु मुरलिया केर तान सजनी – आहाँ बसय छी हमरे प्राण सजनी

सुनु-सुनु मुरलिया केर तान सजनी – आहाँ बसय छी हमरे प्राण सजनी

गीत – मनीष झा, द्वालक, मधुबनी (हाल: मुम्बई) (मैथिली गीतकार, कवि एवं कलाकार – अभिनेता) सुनू-सुनू मुरलिया केर तान सजनी आहाँ ब’सै छी हमरे प्राण सजनी आनल लहठी नै माँगी हम प्रीत मँगनी -2 हे आहाँ ब’सै छी हमरे प्राण सजनी आहाँ ब’सै छी ……………… चलू मिल कमला के छ’हैर में बैसब अपना दुनू छोड़ि […]

सुरुजक छाहरि मे (मैथिली पोथी: कविता संग्रह): लेखक मनोज शाण्डिल्य

सुरुजक छाहरि मे (मैथिली पोथी: कविता संग्रह): लेखक मनोज शाण्डिल्य

उलहन   – मनोज शाण्डिल्य   धुर केहन बड़द सन मनसा हमरा देलें ताकि गे नहि बाजै छै अप्पन भासा जीह गेल छै पाकि गे……….   ढउआ कैंचा हम की करबै हमरा लेल बलाय गे भरि पिरथी पर क्यो नहि भेटलौ माटिक पुत जमाय गे….   जे नहि पूजतै माय के अप्पन हैत ने हम्मर […]

मिथिला: मार्कण्डेय काटजू

मिथिला: मार्कण्डेय काटजू

मिथिला– मार्कण्डेय काटजूहमर पूर्वक पोस्ट द्वारा महान न्यायिक दार्शनिक उद्यानाचार्य, सुविख्यात नीतिशास्त्र ‘न्याय कुसुमाञ्जलि’ केर रचयिता जे मिथिला सँ छलाह तिनकर संदर्भ देल गेल छल। मिथिला, उत्तरी बिहारक एक क्षेत्र, (आंशिक अवस्थिति नेपालहु मे) भारतक एहि भूभाग जतय हम एखन धरि नहि जा सकलहुँ, मुदा मृत्यु सँ पहिने कम सँ कम एक बेर जरुर जाय […]

कविताक सत्य

कविताक सत्य

आलेख – राम चैतन्य धीरज *एहि भूमण्डलीकरणक युग मे कविताक सीमा व्यापक भऽ गेल अछि। तेँ एहि व्यापकता मे संघर्षक आयाम केँ प्रस्तुत करब आवश्यक अछि। *क्षेत्रीय राष्ट्रीयता आ ओकर दर्शन संस्कृति पर जाहि प्रकारक खतरा मंडरा रहल अछि, ओ हमरा सचेत करैत अछि जे जँ अंग्रेजीक बाढि मे मैथिली भसिआइत रहत तँ मैथिलीक अस्तित्वो […]

मैथिलीक महान् पुरोधा स्रष्टा ‘मधुकांत मधुकर’ साहित्य अकादमी सम्मान सँ वंचित

मैथिलीक महान् पुरोधा स्रष्टा ‘मधुकांत मधुकर’ साहित्य अकादमी सम्मान सँ वंचित

विजय झा, कहरा, सहरसा। मैथिली जिन्दाबाद! जुन ३१, २०१५.   हजारों मैथिली गीत आ कतेको रास पोथीक रचनाकार ९२ बसंत पार कय चुकल चैनपुर निवासी पं. मधुकांत झा मधुकर आइयो अपन साधना मे लीन रहैत छथि। क्षेत्रक लोक सब विद्यापति जेकाँ मधुकर बाबा केर रचित भजन श्रद्धापूर्वक गबैत अछि। लोक सब केँ बहुत दु:ख छैक […]

भूकम्प: अभिमन्यु खाँ केर नव ‘मैथिली कविता’

भूकम्प: अभिमन्यु खाँ केर नव ‘मैथिली कविता’

“ई रचना खासकय मैथिली जिन्दाबाद पर प्रथम प्रकाशनार्थ रचल गेल अछि। जीवन मे रचना मात्र सर्वोपरि धर्म मानैत आबि रहल छी। मातृभाषा मैथिलीक मिठास जखन दुनिया केँ नीक लागि सकैत छैक तऽ हम स्वयं एक शिक्षित आ अखण्ड बिहारक सर्वोच्च शिक्षा संस्था ‘नेतरहाट आवासीय विद्यालय’क प्रधानाचार्य रूप मे एकरा सँ कटल कोना रहि सकैत छी। […]

मिथिलाक मुंगेरीलाल: मुंगेरीलाल मैथिल

मिथिलाक मुंगेरीलाल: मुंगेरीलाल मैथिल

मुंगेरीलाल मैथिल भुमिका: हँ! हँ! मुंगेरीलाल वैह जे भारतीय दुरदर्शन डीडी१ चैनल सँ धारावाहिक केर पात्र छल। बेसी उम्मीद ओ बिहारहि केर कोनो भाग सँ छल सैह देखायल गेल स्मृतिमे अबैछ। शहरी परिवेश मे पलायनदंशक शिकार मुंगेरीलाल प्रवेश पबिते अचानक अपना-आप मे कहियो राजनेता, कहियो अभिनेता, कहियो सुपरमैन, कहियो भगवान्, कहियो हाकिम, कहियो राजा… विभिन्न […]

राजकमल चौधरी रचनावली केर दिल्ली मे होयत विमोचन

राजकमल चौधरी रचनावली केर दिल्ली मे होयत विमोचन

किसलय कृष्ण, सहरसा। जुन १४, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! मैथिली तथा हिन्दीक सुप्रसिद्ध साहित्यकार स्व. राजकमल चौधरीक ४९म पुण्यतिथि एहि बेर पहिने सँ बेसी भव्यताक संग मनाओल जयबाक समाचार अछि। एक तरफ १९ जुन केँ सहरसा मे भव्य समारोहक आयोजन करैत विभिन्न चरण मे दिन भरिक कार्यक्रम आयोजन कैल गेल अछि जाहि मे विशिष्ट अतिथि नेपाल […]

आसे आस मे जिनगी

आसे आस मे जिनगी

कथा – विन्देश्वर ठाकुर, दोहा, कतार ठन्डाके मौसम, ताहिपरस रातिक समय । चारुदिस धोनही लागल । कान कान नै सुझय । ते सबगोटे सबेरे खाना खाs कs अपना अपना बेडपर ओङ्गठल । सन्तोषबा सेहो तुरन्ते अपना बेडपर ओङगठले रहय कि फोनक घन्टी बजलै -टिङ टिङ् । सन्तोष समय देखलक रातिक ९ माने नेपालमे १२ बजे […]