Home » Archives by category » Article (Page 150)

शरणागतवत्सल केर शरण मे अर्पित भक्ति-पुष्प

शरणागतवत्सल केर शरण मे अर्पित भक्ति-पुष्प

प्रात:स्मरणीय भगवान् विष्णुकेँ सुमिरन करी पहिले: अथ ध्यानम् शान्ताकारं भुजगशयनं पद्मनाभं सुरेशं विश्वाधारं गगनसदृशं मेघवर्णं शुभाङ्गम्। लक्ष्मीकान्तं कमलनयनं योगिभिर्ध्यानगम्यं वन्दे विष्णु भवभयहरं सर्वलोकैकनाथम्।। जिनक आकृति अतिशय शांत अछि, जे शेषनागक शैयापर शयन कय रहल छथि, जिनक नाभिमें कमल अछि, जे देवता सभकेँ सेहो ईश्वर आ समस्त जगत केर आधार छथि, जे आकाश जेकाँ सर्वत्र व्याप्त […]

मिथिला पर दृष्टिकोण: मार्कण्डेय काटजू

मिथिला पर दृष्टिकोण: मार्कण्डेय काटजू

मिथिला – मार्कण्डेय काटजू हमर पूर्वक पोस्ट द्वारा महान न्यायिक दार्शनिक उद्यानाचार्य, सुविख्यात नीतिशास्त्र ‘न्याय कुसुमाञ्जलि’ केर रचयिता जे मिथिला सँ छलाह तिनकर संदर्भ देल गेल छल। मिथिला, उत्तरी बिहारक एक क्षेत्र, (आंशिक अवस्थिति नेपालहु मे) भारतक एहि भूभाग जतय हम एखन धरि नहि जा सकलहुँ, मुदा मृत्यु सँ पहिने कम सँ कम एक बेर […]

एक गोट कविता सन किछु – संजीव

एक गोट कविता सन किछु – संजीव

।। की कहू आब ।। की कहू आब, किछु नय फुरैत अछि । घ’र आँगन मे भम्हटा पड़ैत अछि ।। कत’ गेल साओन बसात ओ झकास । धूरा बनि सभतरि मनुक्खटा उड़ैत अछि ।। मजरक सुगंध ने, नेमोक फड़ । सभठाम देखू , अलकतरा जड़ैत अछि ।। तोड़ि-ताड़ि निज सम्बंधक डोर केँ । नोन-रोटी दिल्ली […]

मिथिला रक्षार्थ काञ्चीपुरम् शंकराचार्य सेहो चिन्तित

मिथिला रक्षार्थ काञ्चीपुरम् शंकराचार्य सेहो चिन्तित

नव दिल्ली, २ मई, २०१५. अमित चौधरी, मैथिली जिन्दाबाद! हालहि संपन्न एक व्यक्तिगत भेंटक दौरान श्री काञ्ची कामकोटि पीठम्, काञ्चीपुरम् केर शंकराचार्य जयेन्द्र सरस्वती मिथिलाक पौराणिकता आ ऐतिहासिक आध्यात्मिक-दार्शनिक योगदान केँ विशेष स्मरण करैत वर्तमान समयक शिक्षा पद्धति सँ आयल ह्रास पर चिन्ता व्यक्त केलनि। समाजक अगुआवर्ग मैथिल ब्राह्मण मे संस्कृत शिक्षा प्रति उदासीनता सेहो […]

दरभंगा मे आइ मनायल जा रहल अछि जानकीक छठिहार दिवस

दरभंगा मे आइ मनायल जा रहल अछि जानकीक छठिहार दिवस

विगत २७ अप्रैल संपन्न जानकी नवमी यानि जानकी जन्मदिवस केर रूप मे मिथिला सहित मैथिलजन द्वारा देश-विदेश कतेको ठाम मनेबाक समाचार भेटल। मैथिली लोकसंस्कृति मंच द्वारा आयोजित जानकी नवमी मे २७ अप्रैलक जन्म सँ लैत आइ छठिहार दिवस केर रूप मे सेहो मनायल जेबाक समाचार एहि समितिक सचिव प्रो. उदय शंकर मिश्र देलनि अछि। मैथिली […]

लाल बनल शंकराचार्य – पोसनिहारि जननी भेल ‘बताहि सँ बतहिया’

लाल बनल शंकराचार्य – पोसनिहारि जननी भेल ‘बताहि सँ बतहिया’

स्वामी निश्चलानन्द सरस्वती: एक परिचय अनंतश्री विभूषित स्वामी निश्चलानन्द सरस्वती,जगद्गुरु शंकराचार्य, पूरी पीठाधीश्वर केर जन्म मिथिलाक हृदयस्थली ग्राम हरिपुर बक्शी टोल जे हाल उत्तरी बिहारक मधुबनी जिला मे पड़ैत अछि ओहि पावन धरती पर भेलन्हि। ई गाम प्रकांड विद्वानक बस्ती छल आ आइ धरि एकर पहिचान किछु ओहि तरहक विद्यमान अछि। महामहोपाध्याय मुकुंद झा “बक्शी” […]

जतय मैथिल, ततय मिथिला

जतय मैथिल, ततय मिथिला

– अजय मिश्रा, ग्राम: गलमा, जिला दरभंगा हरा गेल अछि पहिलुका सान गाछक लागल मालदह आम दही चुरा संग लोंगिया मिर्चाय मिथिला क माछ, पान, मखान। हरा गेल अछि ललका पाग मरुआ रोटी संग गोटक साग संस्कार अपन हरा गेल अछि केना क हैत एकादसी जाग। हरा गेल अंगना दुआइर सुखा गेल कमला आ धार […]

सुरुजक छाहरि मे – मनोज साण्डिल्यक पहिल पोथी प्रकाशित

सुरुजक छाहरि मे – मनोज साण्डिल्यक पहिल पोथी प्रकाशित

एखनहि सूचना भेटल अछि जे मनोज झा उर्फ मनोज साण्डिल्य नागदह (मधुबनी) निवासी, मैथिली लोक रंग सँ जुड़ल रंगकर्मी तथा मैथिली भाषा-साहित्यक सेवा मे निरन्तर लेखनी कएनिहार द्वारा अपन पहिल कविता संग्रह ‘सुरुजक छाहरि मे’ प्रकाशित कैल गेल अछि जेकर विमोचन आगामी १० मई, २०१५ हैदराबाद मे कैल जाय। मैथिली साहित्य सदैव स्वयंसेवा आ स्वस्फूर्त स्रष्टाक […]

नेपाल भूकंप: स्वामी रामदेव अनाथ बच्चाक संग असहाय घायल व्यक्तिकेँ संरक्षण प्रदान करता

नेपाल भूकंप: स्वामी रामदेव अनाथ बच्चाक संग असहाय घायल व्यक्तिकेँ संरक्षण प्रदान करता

योगगुरु स्वामी रामदेव आइ भारतीय टेलिविजन न्युज चैनल आजतक पर पुन: खुलाशा केलैन जे नेपाल भूकंप मे ओ स्वयं मौतकेँ अपन आँखिक सामने मे देखलाह, अपन जीवन केँ बाँचि जेबाक बातकेँ बोनस भेटय सँ तूलना करैत बाकीक जीवन सेवाभाव मे आरो जोर-शोर सँ समर्पित करबाक वादा केलनि। संगहि स्वामी रामदेव नेपालक भूकंप सँ प्रभावित अनाथ […]

एक प्रयास तऽ करिकय देखू – नारायण मधुशाला

एक प्रयास तऽ करिकय देखू – नारायण मधुशाला

एक प्रयास तऽ करिकय देखू – नारायण मधुशाला घर घर सँ दहेज भगौने अगर बचैत अछि घरक इज्जत तऽ दहेज हँटाबय लेल हम सब कियैक पछुआयल छी घर घर मे किया हमहीं सब नुकायल छी आगा बढू यौ भैया आगा बढू आगा बढू हे बहिना आगा बढू सामाजिक कैंसर भगाबय लेल शुभ काजक शुरुआत करु […]