Home » Archives by category » Article (Page 140)

कनियां सँ आइ फेर झगड़ा भऽ गेल!!

कनियां सँ आइ फेर झगड़ा भऽ गेल!!

कथा – प्रवीण नारायण चौधरी (व्यंग्य प्रसंग) काल्हिये सँ हुनका कहैत छलियैन जे “प्रिये! हमर सब संगीक कनियां जीन्स पहिरैत छैक। सबहक कनियां कनेकबो कनियां सनक बुझाइते नहि छैक। एखनहु जेना छौंड़िये-नौरी जेकाँ कमसिन जबान – फिल्मी हिरोईन समान! से प्रिये! अहाँ सेहो काल्हि हमरा संगे ईन्डिया गेट पर जे घूमय लेल चलब तऽ जीन्स […]

आसे आस मे जिनगी

आसे आस मे जिनगी

कथा – विन्देश्वर ठाकुर, दोहा, कतार ठन्डाके मौसम, ताहिपरस रातिक समय । चारुदिस धोनही लागल । कान कान नै सुझय । ते सबगोटे सबेरे खाना खाs कs अपना अपना बेडपर ओङ्गठल । सन्तोषबा सेहो तुरन्ते अपना बेडपर ओङगठले रहय कि फोनक घन्टी बजलै -टिङ टिङ् । सन्तोष समय देखलक रातिक ९ माने नेपालमे १२ बजे […]

विज्ञ प्रश्न: चुनाव आ मिथिला भाग-२

विज्ञ प्रश्न: चुनाव आ मिथिला भाग-२

– रामानाथ झा, नई दिल्ली। (लेखक एक अनुभवी मैथिल छथि, निर्माता-निर्देशक: मैथिली फिल्म हाफ मर्डर, बाजार तथा निर्यात प्रबंधक, निजी व्यवसायक संग कोरपोरेट कन्सल्टैन्ट रूप मे दिल्ली मे कार्यरत) युद्ध के शंखनाद भऽ चूकल अछि और आब जीत के बादे रथ रूकत ई युद्ध धर्म और अधर्म, न्याय और अन्याय, अपमान और स्वाभिमान के बीच अछि। […]

मनोरंजन: श्वेता केर दिलकश अदा पर फिदा होइत मिथिला

मनोरंजन: श्वेता केर दिलकश अदा पर फिदा होइत मिथिला

– किसलय कृष्ण, समाचार संपादक तथा मैथिली फिल्म विशेषज्ञ समाचार संप्रेषक, सहरसा। जुन १२, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद!! मिथिलाक शिवहर जिलाक अम्बा कलांमे जन्म लेनिहारि श्वेता वर्मा संगमरमरी देहयष्टिक मालकिन त छथिहे, अभिनयक गुण हिनक रोम-रोममे समाहित छनि । भोजपुरी फिल्म सँ अपन कैरियर आरम्भ केनिहारि श्वेता एखन अपन मातृभाषीय सिनेमाक चर्चित नायिका बनि गेलीह अछि […]

जीवनचर्या-सम्बन्धी उपदेश – श्रीउमामहेश्वरजीके जीवन-दर्शन

जीवनचर्या-सम्बन्धी उपदेश – श्रीउमामहेश्वरजीके जीवन-दर्शन

आलेख: आध्यात्मिक चेतना तथा स्वाध्याय एक बेर पार्वती माता भगवान्‌ शिवसँ जीवनमें पालनीय आचारके सम्बन्धमें निवेदनपूर्वक जिज्ञासा कयलन्हि। एहिपर शिवजी देवी पार्वतीकेँ जीवनके सफल बनाबय के लेल विस्तारसँ जे बात बतौलन्हि, ओकर किछु अंश एतय प्रस्तुत अछि जे अत्यन्त उपयोगी सेहो अछि – गृहस्थक धर्म आ गृहस्थाश्रमके श्रेष्ठता – गृहस्थकेर परमधर्म होइछ जे कोनो जीवके […]

सौराठ सभागाछी: संस्मरण यात्रा

सौराठ सभागाछी: संस्मरण यात्रा

१. माधवेश्वरनाथ महादेव मन्दिर – सभागाछीक शान आ पुरातन कलाकृतिक विशिष्ट नमूना सौराठ सभागाछी स्थित ई विलक्षण मन्दिर नहियो किछु तऽ ५०० वर्ष प्राचिन होयत। मिथिलाक एक राजा ‘माधवेश्वर सिंह’ केर नाम पर राखल गेल एहि मन्दिरक नाम ‘माधवेश्वरनाथ महादेव’ अछि। दहेज मुक्त मिथिला व ऐतिहासिक सौराठ सभा विकास समिति केर संयुक्त तत्त्वावधान मे ८ […]

क्रान्तिकारी राम प्रसाद बिस्मिल केर स्मृति

क्रान्तिकारी राम प्रसाद बिस्मिल केर स्मृति

महान क्रांतिकारी राम प्रसाद ‘बिस्मिल’ जी केर जयंति पर मैथिली जिन्दाबाद परीवारक तरफ सँ कोटि कोटि नमन अछि। हिनकर विषय मे जरुर जानी: उपनाम : ‘बिस्मिल’,’ राम’, ‘अज्ञात’ व ‘पण्डित जी’ जन्मस्थल : शाहजहाँपुर, ब्रिटिश भारत मृत्युस्थल: गोरखपुर, ब्रिटिश भारत आन्दोलन: भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम प्रमुख संगठन: हिन्दुस्तान रिपब्लिकन ऐसोसिएशन राम प्रसाद ‘बिस्मिल’ जन्म: ११ जून १८९७ […]

मिथिलाक सुप्रसिद्ध पर्यटन स्थल: गिरिजास्थान, फूलहर, मधुबनी

मिथिलाक सुप्रसिद्ध पर्यटन स्थल: गिरिजास्थान, फूलहर, मधुबनी

जनकपुर सँ सटले मधुबनी जिलाक अत्यन्त प्रसिद्ध पर्यटन स्थल – गिरिजास्थान, एतय जानकी जी नित्य फूल लोढय आ गौरी पूजा हेतु संगी-सहेलीक संग अबैत छलीह। कहल जाइछ जे एतहि जानकी केँ शश्य-श्यामल-पुरुषोत्तम राम संग पहिल बेर नजरि मिलल छलनि। शास्त्र-पुराण आ कतेको कथा आदि द्वारा एहि दृश्यक सुन्दर वर्णन कैल गेल अछि। एहि स्थान पर […]

चुनावी मचान पर मिथिला – भाग २

चुनावी मचान पर मिथिला – भाग २

किसलय कृष्ण, समाचार संपादक नंगटे नहाबी त लाज कथी केर सहरसा, जुन १०, २०१५. मैथिली जिन्दाबाद। साँझुक समय वीर कुमर सिंह चौक पर बैसल छी। गरमागरम चाह, भांग लेल प्रसिद्ध ई चौक साँझक बाद ह्विस्कीक हिचकी पर जतेक हिलकोर लैत हो, मुदा एतय दिनक आनन्दे किछु आओर छैक । कारण चौक सँ सटले प्रमण्डलक सभसँ […]

‘जय जवान – जय किसान’ नारा देनिहार लालबहादुर शास्त्रीक स्मृति मे

‘जय जवान – जय किसान’ नारा देनिहार लालबहादुर शास्त्रीक स्मृति मे

।। यौ लालबहादुर ।। – मनोज शाण्डिल्य छै घेंट जवानक कटा रहल आ पेट किसानक टटा रहल ककरा ले’ नारा उठा गेलहुँ यौ लालबहादुर कतय गेलहुँ देशक माटी अछि बिका रहल सीमा भीतर दिस घिचा रहल दुश्मन सँ तखन किए भिड़लहुँ यौ लालबहादुर कतय गेलहुँ देखू क्यो गाछ सँ लटकि रहल क्यो भुखले माथा पटकि […]