Home » Entries posted by Bhawna Mishra

Stories written by bhawna
लेखनी के धार प्रतियोगिता: पुरस्कृत रचना ‘बेटी’

लेखनी के धार प्रतियोगिता: पुरस्कृत रचना ‘बेटी’

सागर सन गहींर के नाम अछि बेटी निरझर जल सन सच्चाई अछि बेटी दृढ़ संकल्प के चट्टान सन अछि बेटी बसंत फागुन के मंद मंद बसात सन अछि बेटी दुख मे राहत के थपकी अछि बेटी भरोसा और कोमलता के छाहरि अछि बेटी संबंध के आधार के डोरा अछि बेटी हीरा अछि बेटा त मोती […]

लेखनी के धार प्रतियोगिता: पुरस्कृत रचना ‘बेटीके रूप’

लेखनी के धार प्रतियोगिता: पुरस्कृत रचना ‘बेटीके रूप’

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

दहेज मुक्त मिथिला के पैघ सदस्य के प्रणाम, छोट के आशीष… ई बेरि के टाॅपिक अछि ….#आधुनिक_मिथिला_मे_नारी_के_योगदान अहाँ सब से आग्रह अछि,जेँ अहाँ सब लिखूँ। पिछला बेरि के टाॅपिक –“अहाँ बिन” पर लिखनिहार सब रचनाकार ई बेरि विजेता छी,अहाँ सब से आग्रह अछि जेँ अहाँ सब अप्पन अप्पन फोटो,हमर ई पोस्ट मे दियो… आधुनिक मिथिला […]

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

#आधुनिक मिथिला में नारी के योगदान# लेखनी के धार प्रतिस्पर्धा के अहि बेर के विषय बहुत कठिन अछि।तकर कारण जे महिला सब स संबंधित विषय में बिना गंभीर चिंतन के कुछ भी कहनाय बहुत भारी पडि सकैत अछि जहि काल में नारीवाद के सूर्य अपन चरम उत्कर्ष पर अछि।ओहो में मिथिला के नारी के विषय […]

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

दहेज मुक्त मिथिला के पैघ सदस्य के प्रणाम, छोट के आशीष… ई बेरि के टाॅपिक अछि ….#आधुनिक_मिथिला_मे_नारी_के_योगदान अहाँ सब से आग्रह अछि,जेँ अहाँ सब लिखूँ। पिछला बेरि के टाॅपिक –“अहाँ बिन” पर लिखनिहार सब रचनाकार ई बेरि विजेता छी,अहाँ सब से आग्रह अछि जेँ अहाँ सब अप्पन अप्पन फोटो,हमर ई पोस्ट मे दियो… आधुनिक मिथिला […]

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

#आधुनिक_मिथिला_में_नारी_के_योगदान आधुनिक मिथिला में नारी के योगदान जहिना सतयुग में सती के महिमा देखलक सकल जहान , त्रेता में सेहो सँग राम के भेलैन जनक नंदिनी के गुणगान द्वापर में द्रौपदी बनि कहलनि कतेक जरूरी नारी सम्मान , सबयुग के रचयिता नारी के आधुनिक मिथिला में सुनु योगदान जननी,अर्द्धांगिनी कखनौ बहिन ओ संगी कखनौ सुता […]

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

आधुनिक मिथिला में नारी के योगदान पुरुष स बेशी कही त अतिशयोक्ति नहि / ओना देखल जाइ त , पुरातन काल में सेहो मिथिला में नारी के योगदान बढि क रहल अछि जेना की हमरा सब के ज्ञात अछि देवासुर संग्राम में रानी कैकेयी राजा दशरथ के रथ चालिका रहथि आ जखन हुनकर रथक कील […]

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

” #आधुनिकयुग मअ नारी कअ योगदान” आधुनिक युग मअ नारी कअ बहुत योगदान यअ । घोर परिवार देखभाल सअ लो कअ, “official work ” तक मअ निपुण छैथ । जखन औरत जन्म लै छेथ तअ , (1) पहीने ओ अपन बेटी – बहीन होए कअ फर्ज शकुशल निभाबैय छैथ । (2) ओकर बाद जखन हुनकर […]

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

मिथिलाक नारीक योगदान,किछु पंक्ति हमर कलम सं। आधुनिक मिथिला मे नारी क योगदान मिथिलाक नारी, चमकली सब दिन, चान-सुरज बनि। सुरभित केलीह सगरो,निशदिन अपन मैथिल समाज। एखनो पकड़ने छथि, मिथिलाक उत्थानक डोरी, अपन हाथ में,”मिथिलाक नारी”। सीता, सुनयना, उर्मिला भारती, गार्गी या हो मांडवी। बदलि लेली बरू अपन नाम। नहि बदलल,मिथिलानीक स्वाभिमान। एखनो सजेने छथि […]

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

आधुनिक मिथिला मे नारी के योगदान

#दहेज मुक्त मिथिला #लेखनी के धार #विषय-आधुनिक-मिथिला-में-नारी-के-योगदान घरनी ,धरनी घर भार सहे, घर ऑगन घरनी सॅ चमकै। आधुनिको समाज में पुरूषे सर्वोपरि, महिलाक जीवन अधिक जटिल। बाहर भीतर दुनू सम्हारैत, समय पर घोघ निकालैथ। जींस सूट पहिर ऑफिस जैथ, डेग स डेग मिला सब कर्तव्य निभाबैथ। जेना धरन कडी पर छत टिकल, तहिना घरनी दुःख […]

Page 1 of 212